अमरनाथ जलप्रलय: अब तक 16 श्रद्धालुओं की मौत, 40 से अधिक लापता.., बचाव अभियान जारी

श्रीनगर: केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ गुफा के पास शुक्रवार शाम बादल फटने के चलते बड़ा हादसा हो गया है। भारी सैलाब में कई भक्त बह गए। अब तक 16 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। वहीं, 45 से अधिक लोग घायल बताए जा रहे हैं। जबकि 40 से अधिक लोग लापता भी हो गए हैं। इनकी तलाश में बचाव अभियान चल रहा है।

मौके पर ITBP और NDRF की टीमें डटी हुईं हैं। देर रात तक राहत और बचाव कार्य जारी रहा। शनिवार सुबह से एक बार फिर अभियान में तेजी लाई जा रही है। बचाव कार्य में सर्च और रेस्क्यू डॉग को भी लगाया गया है। शरीफाबाद से 2 सर्च और रेस्क्यू डॉग को हेलीकॉप्टर के माध्यम से पवित्र गुफा में ले जाया गया है। आज सुबह एयर रेस्क्यू ऑपरेशन के तहत 6 तीर्थयात्रियों को सुरक्षित निकाला गया। नीलागरर हेलीपैड पर मेडिकल टीमें मौजूद हैं।

माउंटेन रेस्क्यू टीम और अन्य दल लापता लोगों की खोज में लगे हुए हैं। जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा लगातार स्थिति पर नज़र रख रहे हैं। उन्होंने राहत और बचाव कार्य के बारे में प्रधानमंत्री और गृह मंत्री को भी जानकारी दे दी गई है। उपराज्यपाल की ओर से बताया गया है कि CRPF, NDRF, SDRF, BSF, सेना, स्थानीय पुलिस और श्राइन बोर्ड द्वारा बचाव अभियान जारी है। घायलों को बचाने के लिए ALH हेलिकॉप्टर को काम पर लगाया गया है। उन्होंने कहा है कि लोगों की जान बचाना हमारी प्राथमिकता है। तीर्थयात्रियों को सभी जरूरी मदद देने के निर्देश जारी किए गए हैं।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.