महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी क्रांति कुमार भारतीय जी की 49 वीं पुण्यतिथि पर महाविद्यालय परिवार ने किया श्रद्धांजलि सभा का आयोजन

शक्ति विकासखंड के जेठा में स्थित सरकारी कॉलेज का शासन द्वारा किया गया है क्रांति कुमार भारतीय जी के नाम पर नामकरण

बाराद्वार शहर से भी गहरा एवं पुराना नाता रहा है क्रांति कुमार भारतीय जी का

महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ ए के चतुर्वेदी ने कहा-क्रांति कुमार भारतीय जी ने सबसे पहले बिलासपुर के मल्टीपरपज स्कूल में फहराया था तिरंगा, भारतीय जी ने बाराद्वार को ही अपनी मातृभूमि बनाए रख स्वतंत्रता आंदोलन में दिया योगदान

सक्ती- नवीन शक्ति जिले के शक्ति विकासखंड के ग्राम- जेठा में स्थित शासकीय क्रांति कुमार भारतीय महाविद्यालय सक्ती(सकरेली-बा) में 02अगस्त को महान स्वतंत्रता सेनानी क्रांति कुमार भारतीय की 49 वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया

सर्वप्रथम महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ ए के चतुर्वेदी सर एवं प्राध्यापको में डॉ पी आर कठौतिया, डॉ शकुंतला राज, डॉ डी पी पाटले,प्रो एल के सिंह , प्रो रीतू पटेल तथा बी एस सी, एम ए राजनीति और एम एस सी रसायन विज्ञान के विद्यार्थियों के द्वारा क्रांति कुमार भारतीय जी को यादकर उनके चित्र पर दीप जलाकर और पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई। कार्यक्रम का संचालन करते हुए डॉ पी आर कठौतिया विभागाध्यक्ष, राजनीति विज्ञान ने स्व. क्रांति कुमार भारतीय जी के जीवन और उनके योगदान के बारे प्रकाश डाले तत्पश्चात् महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ ए के चतुर्वेदी जी ने स्व. क्रांति कुमार भारतीय के बारे में विस्तार से जानकारी दी, उन्होंने कहा कि उनका असली नाम सरस्वती देव जी था, उनके द्वारा बिलासपुर में शासकीय मल्टीपरपस स्कूल में पहली बार तिरंगा फहराया, तब लोग अचंभित रह गए, अंग्रेजों ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया और उनसे पूछा गया कि तुम्हारा नाम क्या है,तब उन्होंने अपना नाम क्रांति कुमार भारतीय बताया

तब से उनको इसी नाम से जाना जाने लगा। उन्होंने अपनी मातृभूमि बाराद्वार को बनाया और यहीं रहकर जीवन भर देश को स्वतंत्र कराने के लिए कार्य किए,आदि उनके जीवन के रोचक बातों पर प्रकाश डाले,इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य सहित प्राध्यापकगण एवं विद्यार्थी गण, जिसमें रिषभ नारंगे,मोहित श्रीवास,राजू,हेमन्त, देवकुमारी रत्नाकर,सुकृता खुटे, नम्रता राठौर ,मनीषा पाटले, राजलक्ष्मी, गौरी जायसवाल, कल्याणी साहू ,शांति, चंचल, प्रियंका, कृतिका,और संगीता आदि विद्यार्थीयों की उपस्थित रहे

उल्लेखित हो की शक्ति विकासखंड के जेठा में स्थित शासकीय क्रांति कुमार भारतीय महाविद्यालय इस अंचल का एक सर्वश्रेष्ठ महाविद्यालय है तथा महाविद्यालय में क्रांति कुमार जी से जुड़ी स्मृतियों को संजोकर विद्यालय परिसर में स्थापित करने की पहल विगत दिनों छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत एवं शासकीय क्रांति कुमार भारतीय महाविद्यालय जनभागीदारी समिति की अध्यक्ष रिंकू आनंद अग्रवाल ने भी की थी, जिसके पश्चात महाविद्यालय परिवार द्वारा क्रांति कुमार भारतीय जी से जुड़े वृतांत एवं कुछ छायाचित्र को महाविद्यालय परिसर में विद्यार्थियों की जानकारी के लिए लगाया भी गया है, तथा क्रांति कुमार जी का संपूर्ण जीवन एवं उनके द्वारा इस राष्ट्र की उन्नति के लिए दिए गए योगदान पर प्रचारित किया गया है

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.