तेंदुलकर के बाद उमरान का गेम देखने को बेताब गावस्कर ने कहा- दो मैच हार गए अब तीसरे में उसे दे दो मौका

आइपीएल 2022 में सनराइजर्स हैदराबाद के लिए तूफानी प्रदर्शन करने के बाद तेज गेंदबाज उमरान मलिक ने भारतीय टी20 टीम में जगह बनाई थी। साउथ अफ्रीका के खिलाफ पांच मैचों की टी20 सीरीज के लिए वो टीम इंडिया का हिस्सा हैं, लेकिन पहले दो मैचों में उन्हें टीम में जगह नहीं दी गई। भारतीय टीम को इन दोनों मैचों में हार मिली और अब तीन मैच और खेले जाने हैं। इन मैचों से पहले टीम इंडिया के पूर्व ओपनर बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने उमरान मलिक को बैक करते हुए कहा कि उन्हें अब प्लेइंग इलेवन में मौका देने का वक्त आ चुका है।

गावस्कर का मानना है कि प्रोटियाज के खिलाफ तीसरे टी20 मैच के लिए उमरान मलिक को प्लेइंग इलेवन में जगह दी जानी चाहिए। 72 साल के गावस्कर ने कहा कि ये सही वक्त है जब भारत को उमरान मलिक को डेब्यू का मौका देना चाहिए। टेस्ट क्रिकेट में 10,000 रन बनाने वाले पहले क्रिकेटर ने हमेशा दाएं हाथ के तेज गेंदबाज की प्रशंसा की है, जिन्होंने इस साल आइपीएल में 22 विकेट चटकाए थे और कहा था कि महान सचिन तेंदुलकर के बाद, उमरान एकमात्र ऐसे क्रिकेटर हैं जिन्हें देखने के लिए वह उत्साहित हैं।

उमरान मलिक की सबसे बड़ी ताकत उनकी गेंद की गति है और साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजों के खिलाफ वो भारत का सबसे बड़ा हथियार साबित हो सकते हैं। पिछले दो मैचों में साउथ अफ्रीकी तेज गेंदबाजों ने भारतीय बल्लेबाजों को परेशान किया है और भारत की तरफ से उमरान जितनी तेज गति से कोई भी गेंदबाजी नहीं करता है। उमरान मलिक लगातार 150 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने की क्षमता रखते हैं जो किसी भी टीम के बल्लेबाजों को परेशान कर सकते हैं।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.