जिले के न्यायाधीश गण ने बाबा भोलेनाथ की नगरी तुर्री धाम पहुंचकर किया दर्शन, तुर्री धाम का मनोरम दृश्य देखकर प्रभावित हुए न्यायधीश

जिला एवम सत्र न्यायाधीश जांजगीर सुरेश सोनी ने भगवान भोलेनाथ के किये दर्शन

सक्ति-तुर्री धाम के पवित्र बाबा भोलेनाथ का मंदिर में जांजगीर-चांपा जिले के न्यायाधीशों के साथ किशोर न्याय बोर्ड के सदस्य सुरेश कुमार जायसवाल ने भी बाबा भोलेनाथ तुर्री धाम के दर्शन करते हुए तुर्री धाम मंदिर में टेका मत्था, सभी ने जिलावासियों के लिए सुख समृद्धि कामना की

जांजगीर-चांपा जिले के शक्ति विकासखंड में स्थित बाबा भोलेनाथ की पवित्र नगरी तुर्रीधाम में 17 जुलाई को जांजगीर-चांपा जिला एवम सत्र न्यायाधीश सुरेश सोनी,लैंगिकअपराधों से बालकों का संरक्षण विशेष न्यायाधीश के आर रिंगनी, अपर सत्र न्यायाधीश सुरेश कुमार जून, बालकों का देखरेख एवं संरक्षण विशेष न्यायाधीश(सक्ती)यशवंत कुमार सारथी,विशेष न्यायाधीश रवि महोबिया, न्यायिक मजिस्ट्रेट चेतना ठाकुर,सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण गीतेश कुमार कौशिक, के साथ-साथ सदस्य किशोर न्याय बोर्ड सुरेश कुमार जायसवाल भी उपस्थित रहे व पूजन अर्चना किया, इस अवसर पर जिला एवम सत्र न्यायाधीश सोनी जी तुर्री धाम मंदिर में बाबा भोलेनाथ से समस्त जिले वासियों की सुख- समृद्धि की कामना की, तो वहीं दूसरी ओर मंदिर में विधिवत भगवान शिव की पूजा अर्चना की, तथा इस अवसर पर समस्त न्यायाधीशों ने तुर्री धाम मंदिर परिसर में स्थित अन्य मंदिरों के भी दर्शन कर आशीर्वाद प्राप्त किया

 

साथ ही इस दौरान सुरेश कुमार जायसवाल ने जिला से आए जिला एवम सत्र न्यायाधीश व उनके साथ आए सभी न्यायाधीशों को पवित्र तुर्रीधाम क्षेत्र के प्राकृतिक सौंदर्य से भी रूबरू कराया एवं बतलाया की जांजगीर-चांपा जिले का यह धार्मिक स्थल लोगों की आस्था का केंद्र है, तथा इस मंदिर परिसर में बाबा भोलेनाथ के ऊपर अनवरत निरंतर बह रही जलधारा अपने आप में एक अनूठी है,उल्लेखित हो की तुर्री धाम शक्ति विकासखंड का एक बड़ा पवित्र धार्मिक स्थल है।जहां प्रतिवर्ष हजारों की संख्या में श्रावणी मास में शिव भक्त कावड़िए जल अर्पित करते हैं

 

तो वहीं तुर्री धाम में प्रत्येक वर्ष महाशिवरात्रि पर्व पर बड़े मेले का आयोजन होता है,साथ ही वर्ष भर बाबा भोलेनाथ की नगरी तुर्रीधाम में दर्शन करने श्रद्धालु भक्तजन अपने परिवार सहित पहुंचते हैं।तुर्रीधाम में प्रतिवर्ष महाशिवरात्रि एवम सावन मास पर्व पर मेला आयोजित होता है

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.