किरंदुल की गोंडवाना समाज महिला समिति की मातृ शक्तियों के द्वारा बड़े ही हर्षोल्लास के साथ छत्तीसगढ़ की पहली तिहार हरेली का पर्व मनाया गया …

किरंदुल । किरंदुल की गोंडवाना समाज महिला समिति की महिला शक्तियों के द्वारा बड़े ही हर्षोल्लास के साथ हरेली का त्यौहार मनाया गया यह त्यौहार हिंदुओं का पवित्र महीने श्रावण मास में पड़ने वाली अमावस्या को मनाया जाता है हरेली त्यौहार एक कृषि त्यौहार है जो कि छत्तीसगढ़ राज्य में ग्रामीण किसानों द्वारा मनाया जाता है इस लोकप्रिय हरेली त्यौहार का नाम हिंदी के शब्द हरियाली से आया है इस समय किसान अपनी अच्छी फसल की कामना करते हुए कुल देवता-कुलदेवता एवं ग्राम देवता की पूजा करते हैं इस दिन बच्चे पहले से ही गेड़ी की तैयारी में जुट जाते हैं इस दिन कृषि उपकरण एवं औजारों की पूजा की जाती है इस तरह हरेली का त्यौहार गोंडवाना समाज की मातृ शक्तियों द्वारा बड़े हीं धूम धाम से मनाया गया।

कार्यक्रम के दौरान संरक्षक डी उइके, शारदा दर्रो, गोंडवाना महिला समिति की अध्यक्ष नीतू कोड़पी, सचिव सुशीला नेताम मोमीन कुंजाम, पिंकी कोर्राम, मनीषा नाग, पुष्पा मंडावी, पुष्पांजलि गंगराले, श्वेता ध्रुव, सील्पी मंडावी, खेमीन गावड़े एवं मातृ शक्ति उपस्थित थे।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.