शीघ्र वेतन पुनरीक्षण एवं अन्य मांगों को लेकर एमएमडब्ल्यू (इंटक) यनियन द्वारा किया गया आंदोलन का आगाज

किरंदुल. एनएमडीसी कर्मचारियों, परियोजना एवं जनहित के मुद्दों पर सदैव मुखर रहने वाली मजदूर संघ मेटल माइंस वर्कर्स यूनियन (इंटक) शाखा किरंदुल द्वारा शीघ्र 1 जनवरी 2022 से लंबित वेतन पुनरीक्षण को लागू करने हेतु तत्काल समझौता बैठक कराने, कोर एक्टिविटी क्षेत्रों में निजी वाहन न चलाने, अनुसचिवीय एवं आशुलिपिक पदों पर नियमित भर्तियां करने, परियोजना अस्पताल में चिकित्सक एवं पैरामेडिकल स्टॉफ की भर्ती करने आदि मांगों को लेकर किये जाने वाले क्रमिक आंदोलन का आगाज आज कर दिया गया, जिसके तारतम्य में सभी विभागों, अनुभागों में कार्यालय के सामने मेटल माइंस वर्कर्स यूनियन के पदाधिकारियों, सदस्यों द्वारा तीनों पालियों में नारेबाजी किया गया तथा काला फीता लगाकर कार्य सम्पादित किया गया।

 

उक्त आंदोलन के संदर्भ में एमएमडब्ल्यू यूनियन (इंटक) शाखा किरंदुल के अध्यक्ष विनोद कश्यप एवं सचिव ए के सिंह द्वारा जानकारी दी गई कि 3 जुलाई को यनियन द्वारा औद्योगिक विवाद अधिनियम 1947 की धारा 22(1) के तहत 6 सूत्रीय मांगों को लेकर सीधी कार्रवाई की नोटिस स्थानीय एनएमडीसी प्रबंधन को दिया गया था। उनमें से 1 प्रमुख मांग नवीन टाइप थ्री मकानों के आबंटन हेतु प्रबंधन द्वारा तत्काल परिपत्र जारी कर दिया गया। शेष 5 माँगो पर स्पष्ट एवं सकारात्मक जवाब न मिलने के कारण यूनियन द्वारा क्रमिक आंदोलन किये जाने का निर्णय लिया गया है। अभी शुरुआत में कर्मचारी काला फीता लगाकर अपने अपने कार्यस्थलों पर कार्य सम्पादित करेंगे तथा तीनों पालियों में नारेबाजी भी की जाएगी। मांगें पूरी न होने की स्थिति में आंदोलन को आगे बढाया जाएगा और अंत मे सीधी कार्रवाई की जाएगी।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.